Skip to main content

Posts

Showing posts from May 8, 2016

नग्मा प्यार का

साभार गुगल

फूलों से सुना नग्मा प्यार का
हाल सुनाया सबा ने इज़हार का
---------------------------------------------------------------------------------
लम्हा दर लम्हा गुज़रा तूफान का
दिलों के बीच रिश्ता क्या इकरार का
---------------------------------------------------------------------------------
शज़र पे बरसा आफताब आग का
कितना तवील था मौसम इंतजार का
---------------------------------------------------------------------------------
सफर सुहाना रहा घटा से मेहताब का
कली ने सीखा तराना दिल के क़रार का
---------------------------------------------------------------------------------
जलता रहा दिया मेरी टूटी दीवार का
रात भर अश्क बहा उसके इंकार का
---------------------------------------------------------------------------------
खिज़ा ने किया है रुख ठंडी हवाओं का
नीद में चुनते रहे ख्वाब इसरार का
---------------------------------------------------------------------------------
वो बनाता रहा बहाना इक्लाक़ का
रास ना आया "अरु" मौसम खार का

आराधना राय "अरु"